बच्चों की पढ़ना छोड़ आपस में भिड़े शिक्षक

Latest

सुनिल गिरी इनरवा मैनाटाँड़(प.च.):- सगरौवा पंचायत के प्राथमिक विद्यालय महुअवा में शिक्षकों के बीच मारपीट हुई। मारपीट में दो शिक्षिकायें और एक शिक्षक शामिल थे।

झगडे का कारण विद्यालय से संबंधित मुद्दों था। शिक्षिका और शिक्षक के बीच बकझक और हाथापाई देख विद्यालय छात्र व छात्रायें और रसोईया भाग खड़े हुए। हंगामे को सुनकर ग्रामीण भी आ पहुचे।
हुआ यू कि स्कूल खुलने के तुरंत बाद विद्यालय संबंधी बातों को लेकर एक शिक्षिका हसबुन नेशा और एक शिक्षक राजीव वर्मा आपस बकझक करने लगे. बकझक में शरीक शिक्षिका हसबुन नेशा ने विशेषावकाश में रही शिक्षिका सबनम खातुन को घर से बुला लिया . तब मामला और बिगड़ गया एवं हाथापाई होने लगी. ग्रामीणों के अनुसार मारपीट में पत्थरबाजी और चप्पलबाजी भी हुआ. इस मामले से आक्रोशित सचिव लालबाबू प्रसाद, रामाधार चौधरी, पेटर पूरी, रामनाथ बैठा, भोज पासवान, प्रभु बैठा, साहेब यादव, लोहा बैठा आदि ने आक्रोश जताते हुए डीईओ, बीडीओ को सारे मामले से अवगत कराया. तुरंत बीडीओ संजय कुमार पाण्डेय ने बीईओ अनिल कुमार प्रसाद को मामले को देखने को कहा. लेकिन बीईओ के निर्देश पर सीआरसीसी सिद्धार्थ कुमार विद्यालय में जांच करने पहुंचे. जांच दल के सामने ही दोनो पक्ष फिर से उलझ गए. स्थिति को गंभीर देख पुरूषोतमपुर पुलिस को सूचना दी गई. तुरंत पुरूषोतमपुर थाना के सअनि रामशरण प्रसाद विद्यालय पहुंचे एवं सारे मामले कि जांच की. जांच करने पहुंचे सअनि श्री प्रसाद को ग्रामीण रामाधार चौधरी एवं सचिव लालबाबू प्रसाद ने लिखित में बताया कि विद्यालय में फ्रेंच लीव में रहने एवं विद्यालयी राशि के बंटवारे को लेकर झगड़ा हुआ है. विद्यालय का माहौल खराब करने वाले शिक्षक और शिक्षिकाओं पर कार्रवाई होनी चाहिए. वही बीईओ के निर्देश पर मामले की जांच करने पहुंचे सीआरसीसी सिद्धार्थ कुमार ने बताया कि आपसी विवाद को लेकर शिक्षक और शिक्षिकायें उलझ गए थे. मामले की जांच करने के बाद प्रतिवेदन को अग्रेतर कार्रवाई हेतू बीईओ को सौंपा जायेगा.  वही बीडीओ श्री पाण्डेय ने बताया कि विद्यालय के कार्यकाल में मारपीट एक गंभीर मामला है. जांच कर दोषीयों पर उचित कार्रवाई की जाएगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *