स्वास्थ्य विभाग के भ्रष्टाचारियों को तेजस्वी ने दी चेतावनी

BIG GRID HEALTH

उप मुख्यमंत्री सह स्वास्थ्य मंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव ने स्वास्थ्य विभाग में भ्रष्टाचार करनेवालों को गंभीर चेतावनी दी है. उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार उनके लिए एलर्जी के समान है जिसे किसी भी हाल में बर्दास्त नहीं किया जायेगा. कहा कि विभाग में किसी भी प्रकार की वित्तीय अनियमितता, रिश्वतखोरी और भ्रष्टाचार को बर्दाश्त नहीं किया जायेगा. पूर्व स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय का नाम लिये बगैर कहा कि पूर्व स्वास्थ्य मंत्री की तरह स्कोर नहीं पूछेंगे बल्कि परफॉर्मेंस के स्कोर के आधार पर सेवा का मूल्यांकन करेंगे.  उन्होंने साफ शब्दों में विभाग के हर स्तर के पदाधिकारियों को निर्देश दिया कि राज्य की स्वास्थ्य व्यवस्था को 60 दिनों के अंदर पटरी पर लाने का काम करें.

उप मुख्यमंत्री ने प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों, जिला अस्पतालों से लेकर मेडिकल कॉलेज अस्पतालों और आइजीआइएमएस में जांच, दवा सहित इलाज के सभी मानकों को पूरा करने का टास्क स्वास्थ्य विभाग को दिया. उन्होंने जब मंगलवार की आधी रात को राजधानी के पीएमसीएच, न्यू गार्डिनर रोड अस्पताल और गर्दनीबाग अस्पताल का औचक निरीक्षण किया था. निरीक्षण के दौरान उन्होंने लचर व्यवस्था और मरीजों की परेशानियों को नंगी आंखों से देखा था. उप मुख्यमंत्री ने पहली बार राज्य की स्वास्थ्य व्यवस्था का बुधवार को ज्ञान भवन में स्वास्थ्य विभाग के शीर्ष अधिकारियों और चिकित्सकों , सभी जिलों के सिविल सर्जनों, बिहार के सभी मेडिकल कॉलेजों के अधीक्षकों और जिला कार्यक्रम प्रबंधकों के साथ समीक्षा की. उन्होंने सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों, जिला सदर अस्पतालों और मेडिकल कॉलेजों में स्वास्थ्य सेवा में सुधार का 60 दिनों का लक्ष्य दिया. उन्होंने जिला एवं बड़े अस्पतालों में 24 घंटे उचित स्टाफ के साथ हेल्प डेस्क और कंप्लेन डेस्क स्थापित करने का आदेश दिया. इससे मरीजों के भर्ती होने से लेकर, एंबुलेंस , शव वाहन, रेफरल की सहज व सरल सुविधा प्रदान करने साथ-साथ मृत्यु प्रमाण पत्र निर्गत करने की प्रक्रिया सरल बने. जिला अस्पतालों को रेफरल पॉलिसी का एसओपी फॉलो करने को कहा गया. वहां दवाओं की उपलब्धता व मेडिकल उपकरणों को चालू रहें. विभाग को रिक्त पदों को भरने की प्रक्रिया में तेजी लाने का निर्देश दिया गया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *