उपमुख्यमंत्री सम्राट से मिला इंडियन प्रोड्यूसर एसोसिएशन

पटना

बिहार में एनडीए सरकार बनने के बाद पहली बार इंडियन पिक्चर्स प्रोड्यूसर एसोसिएशन (आइएमपीपीए) का प्रतिनिधिमंडल उपमुख्यमंत्री सम्राट चौधरी से मिला. प्रतिनिधिमंडल ने बिहार सरकार से राज्य में फिल्म नीति को लागू करने और फिल्मों को सब्सिडाइज्ड करने का आग्रह किया. प्रतिनिधि मंडल का नेतृत्व आइएमपीपीए के अध्यक्ष अभय सिन्हा कर रहे थे. साथ में इमप्पा के कार्यकारिणी सदस्य व फ़िल्म मेकर्स कंबाइन के महासचिव निशांत उज्जवल भी मौजूद थे.

आइएमपीपीए के दो सदस्यीय प्रतिनिधि मंडल ने सर्वप्रथम उपमुख्यमंत्री सम्राट चौधरी को बताया कि बिहार में फिल्मों के विकास और यहां के कलाकारों को उचित मंच प्रदान करने के लिए फिल्म नीति को यथाशीघ्र लागू किया जाना चाहिए. इससे प्रदेश में रोजगार के भी मौके सृजित होंगे. जब फिल्म में बनने लगेगी, तब बिहार के मनोरम लोकेशन पर शूट करने के लिए बॉलीवुड समेत हर इंडस्ट्री से लोग आएंगे. यह बिहार के पर्यटन को भी बढ़ावा देने में कारगर साबित होगा.

इनलोगो ने इस मामले में पड़ोसी राज उत्तर प्रदेश का भी उदाहरण दिया, जहां आज बॉलीवुड से लेकर हर इंडस्ट्री की एक से बढ़कर एक फिल्म में बन रही है। इससे उत्तर प्रदेश की सरकार और वहां के स्थानीय कलाकारों को भी लाभ मिल रहा है. अभय सिन्हा के नेतृत्व वाली आइएमपीपीए के प्रतिनिधिमंडल के आग्रह को स्वीकार करते हुए उपमुख्यमंत्री सम्राट चौधरी ने भरोसा दिया कि मंत्रिमंडल विस्तार के बाद इस मामले में अवश्य कार्यवाही होगी और बिहार के पास भी अपनी फिल्म नीति होगी, इस अवसर पर भाजपा कला संस्कृति व फ़िल्म विभाग के प्रदेश संयोजक वरुण कुमार सिंह भी उपस्थित थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *